कहा… अब निगम अभियंता की निगरानी में होंगे पानी के सैंपल

उपभोक्ताओं को पानी वितरित करने से पहले लिए जाएंगे सैंपल

प्रियंका चौहान

शिमला में लगातार फेल हो रहे पानी के सैंपल को लेकर शिमला जल निगम चौकन्ना हो गया है। पानी के सैंपल फेल होने पर शिमला जल प्रबंधन निगम ने सोमवार को अपनी सफाई दी। इस दौरान निगम की ओर से कहा गया है कि शिमला जल प्रबंधन एक बार फिर पानी के सैंपल जांच के लिए भेजेंगे।

निगम ने दावा किया कि शहर में तब तक पीने का पानी लोगों को वितरित नहीं किया जाता है जब तक पानी के सैंपल पूरी तरह से साफ़ नहीं पाए जाते हैं ! शहर के स्टोरेज टैंकों व सार्वजनिक नलों में क्लोरीन लेबल तय

मानकों से अधिक होने के बावजूद पानी के सैंपल फेल होने पर शिमला जल प्रंबधन निगम लिमिटेड कंपनी के एमडी धर्मेंद्र ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि कंपनी के कनिष्ठ अभियंता ही पानी के सैंपल लेंगे। इसके बाद ही सैंपल फेल होते है तो इसमें जेई की जवाबदेही को सुनिश्चित किया जाएगा।

इसी के चलते अब कंपनी ने शहर में पानी के सैंपल कनिष्ठ अभियंता की निगरानी में लेने के आदेश जारी कर दिए है ताकि सैंपल लेने के लिए तय किए नियमों को सखती से लागू किया जा सके और पानी के सैंपल फेल न हो सके। कंपनी ने स्पष्ट किया है कि जूनियर इंजीनियर स्वयं अब शहर के विभिन्न स्थानों से पानी के सैंपल लेगे इस दौरान इंनवायमेंटल एक्सपर्ट भी मौके पर मौजूद रहेगा ताकि पनी की सैंपल रही

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here