ऊपरी क्षेत्र में सरकारी संस्थानों में बढ़ी है रिक्तियां। प्रदेश से नशे को दूर करने के लिए सरकार करे और प्रयास ….

विधेयक ला कर कानून में संशोधन करने  मात्र से नहीं होगा नशा दूर…

हिमाचल सरकार ऊपरी क्षेत्र से कर रही है सौतेला व्यवहार :-विधायक विक्रमादित्य सिंह

शिमला:-पूर्व मुख्य मंत्री वीरभद्र सिंह के पुत्र एवं शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने आरोप लगाया है कि प्रदेश सरकार ऊपरी क्षेत्र से सौतेला व्यवहार कर रही है। उन्होंने बताया यहाँ के विभिन्न सरकारी संस्थानों में बड़े पैमाने पर स्थानांतरण से रिक्तियां बढ़ी है जिससे विकास की गाडी थम गई है। उन्होंने कहा शिक्षण और स्वास्थ्य संस्थानों
में खाली पदों के चलते आम जनता प्रभावित हो रही है। जो काम कांग्रेस सरकार के समय में हुए है वो रुके पड़े है।  भाजपा के क्षेत्रीय नेता जिन्हे जनता ने विधासभा चुनावो में नकारा है वो अधिकारियो पर दवाब बना कर अपने चहेतो को फायदा पहुंचाने का काम करवा रहे है।

लोक निर्माण,सिचाई व वन विभाग में भाजपा के नेता पार्टी कार्यकर्ता ठेकेदारों को काम दिलाने के लिए हदे पार कर रहे है। जिस में धांधली होने की सम्भावनाये अधिक है।  विक्रमादित्य ने कहा कि प्रदेश से नशा दूर करने के लिए और अधिक प्रयास की जरूरत है। उन्होंने कहा कि विधेयक ला कर कानून में संशोधन कर कठोर सजा का प्रावधान करने मात्र से सुधार होने वाला नहीं है। नशा निवारण केंद्र और सुधार गृह का निर्माण करना होगा। युवाओ को आकर्षित करने के लिए रोजगार के संसाधन तैयार करना जरूरी है

उन्होंने बताया हाल ही में नगरपरिषद रामपुर के कांग्रेस पार्षदों द्वारा अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है, लेकिन स्थानीय प्रशासन इस में भी भाजपा के इशारे पर काम कर रही है। अगर असंवैधानिक तरीके अपनाये गए तो कांग्रेसी सड़को पर उतरेंगे।

विधायक विक्रमादित्य ने बताया सरकार ऊपरी क्षेत्र से भेद भाव कर रही है। विक्रमादित्य सिंह ने हिमाचल कांग्रेस की बात करते हुए कहा कांग्रेसी नेताओ की आपसी छींटाकशी से संगठन कमजोर होगा। वे निवेदन करते है कि संगठन को मज़बूत करने के लिए सब एक-जुट हो कर आगे बड़े। ताकि आने वाले लोक सभा चुनाव में प्रदेश की चारो सीटे कांग्रेस की झोली में जाए

उन्होंने कहा हालांकि वे पार्टी में कनिष्ट है और युवा विधायक है संगठन की मज़बूती और राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए सभी कांग्रेस नेता को मत भेद और मन भेद दूर कर एक साथ मिल कर काम करना होगा
विक्रमादित्य ने कांग्रेस नेताओ से आपसी मतभेद मिटा कर एक होने की अपील की है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here