तीन साल से किडनी रोग से थीं पीड़ित, आईजीएमसी में ली अंतिम सांस

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

शिमला। हिमाचल के मशहूर लोकगायक विक्की चौहान की माता चंद्रकला जी का बुधवार को शिमला के आईजीएमसी में देहांत हो गया है। वे 66 साल की थीं। चंद्रकला पिछले तीन सालों से किडनी रोग से ग्रस्त् थी। उनका अंतिम संस्कार हरिद्वार में किया गया। शुक्रवार को विक्की चौहान के घर छाजपुर में शोक संतप्त परिवार से मिलने लोग आ रहे हैं। शुद्धिकरण की रस्म 11 दिन बाद छाजपुर में ही होगी।

पिछले तीन सालों से किडनी रोग से ग्रस्त विक्की चौहान की माताजी डायलिसीस पर थी। बुधवार को उनकी अचानक तबीयत खराब होने पर उन्हें आईजीएमसी लाया गया जहां उन्हें साइंलेंट हार्टअटैक हुआ। उनकी मृत्य होने पर बर्फबारी अत्यधिक होने के कारण रोड़ ब्लाक होने की स्थित में घरवाले उनकी देह अंतिम संस्कार के लिए हरिद्वार लेकर गए। जहां वीरवार को उनका अंतिम संस्कार किया गया इसके बाद परिवार के सदस्य अपने घर छाजपुर लौट आए हैं। यहां अभी 11 दिन तक मुंह दिखाई की रस्म चलेगी जिसमें लोग शोक संतप्त परिवार को सांत्वना देने पंहुचेंगे।

loading...