दुनिया की सबसे मंहगी सब्जी के लिए है विख्यात…..

गुच्छी का वैज्ञानिक नाम हैं मार्कुला एस्क्युलेन्टा…….

 गुच्छियां निकलते ही दूर दराज के ग्रामीण निकलते हैं जंगलों की ओर…….

विशेषर नेगी

रामपुर। गुच्छी एक ऐसा नाम है जो हिमालय के जंगलों में पाई जाती हैं। यह दुनिया की सबसे मंहगी सब्जियों में से एक है तथा भिन्न भिन्न नामों से इसे जाना जाता है। वैज्ञानिकों ने इसे मार्कुला एसक्यूलेंटा नाम दिया है। माना जाता है कि गुच्छी बादलों की तेज गर्जन से धरती पर फटती है और यह  2 से 7 सेटीमीटर तक लंबी होती है। खासतौर पर यह ऊंचाई वाले इलाकों में बसंत ऋतु में बहुत अधिक संख्या में पाई जाती है।

 सर्दियाँ खत्म होते ही यह हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, कश्मीर और हिमालय के कई ऊंचे इलाकों में पाई जाती है तथा काफी संख्या में लोग गुच्छी को इकटठा करने के लिए जंगलो में जाते है। गुच्छी में विटामिन बी ए डी व् सी व् अन्य विटामिन की भरपूर मात्रा होती है तथा इसके नियमित सेवन करने से दिल की बीमारी से भी छुटकारा मिलता है।

बड़े – बड़े होटलों तथा घरों में इसे सब्जी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। इन दिनों गुच्छी का सीजन आंरभ हुआ है तथा बाजार में यह 15 हजार प्रतिकिलो के हिसाब से बिकती है। ग्रामिणों की आय का यह एक अच्छा साधन है। स्थानीय निवासी रतन का कहना है कि वे गुच्छी को खोजने के लिए जंगलो में जाते है तथा इससे उनकी कमाई बहुत अच्छी होती है।

वही स्थानीय निवासी चुनी लाल का कहना है कि गुच्छी बेचकर उनका अच्छा गुजारा होता है तथा वे इन दिनों गुच्छी खोजने में लगे है। डॉ आरएस मिन्हास ने बताया गुच्छी कई औषधीय गुणों से भरपूर है। गुच्छी का वनस्पतिक एवं वैज्ञानिक नाम मार्कुला एस्क्युलेन्टा है। यह 18 से 21 तापमान पर ही प्राकृतिक रूप में उगता है।

गुच्छी में एंटी ऑक्सिडेंस होते है। इस लिए गुच्छी में कई औषधीय गुण पाए जाते है जैसे डायबटीज, हाइपटेंशन व् कैंसर में लाभकारी है। इसे विश्व में सब से मंहगी सब्जी मानी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here