सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार
दो माह पहले हुई थी शादी
सीएम ने शहीद को दी श्रद्धाजंलि, किया शोक व्यक्त
कहा-दु:ख की घड़ी में सरकार परिवार के साथ

आदर्श हिमाचल ब्यूरो
शिमला/ सोलन। जिला के नालागढ़ विकास खंड की ग्राम पंचायत जोघों के गांव जगतपुर के जैक राईफल में तैनात शहीद राईफल मैन राजेश ऋषि का आज पूरे सैन्य सम्मान के साथ जोघों स्थित मोक्षधाम में अंतिम संस्कार कर दिया गया। शहीद राजेश के भाई ने उनकी चिता को मुखाग्नि दी। शहीद राजेश ऋषि को अंतिम विदाई देने के लिए हजारों लोग पहुंचे और उसकी शहादत पर हर आंख नम थी। जिला प्रशासन की ओर से अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी विवेक चंदेल ने शहीद को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की और परिजनों को ढाढंस बंधाया। उन्होंने शहीद के पिता रंजीत सिंह को इस दु:ख की घड़ी में हिम्मत रखने की सांत्वना दी।
भारतीय सेना के 9 डोगरा रेजीमेंट की ओर से मेजर राहुल ठाकुर की अगुवाई में शहीद सैनिक को सैन्य स मान के साथ अंतिम विदाई दी गई।
उल्लेखनीय है कि नालागढ़ के जवान राजेश ऋषि किन्नौर जिले में भारत-चीन सीमा पर लाइन आॅफ एक्चयूअल कंट्रोल पर गश्त के दौरान 20 फरवरी को हिमस्खलन की चपेट में आ गए थे। उनके शव को 11 दिन के सर्च आपरेशन के उपरांत खोजा गया।
रविवार सुबह जैसे ही शहीद का तिरंगे में लिपटा पार्थिव शरीर जोंघो जगतपुर पहुंचा उसे देख परिजन बिलख पड़े। शहीद की माता और पत्नी बेसुध हो गई। राजेश का विवाह दो माह पहले ही हुआ था।
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शहीद राजेश को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा है कि भगवान दिवंगत आत्मा को शांति दें और शोकग्रस्त परिवार को इस असहनीय दु:ख को सहने की शक्ति प्रदान करें। सीएम ने कहा कि भारी बर्फबारी के कारण रेस्क्यू आॅपरेशन में दिक्कत आ रही है। उन्होंने कहा कि बाकी जवानों की तलाश जारी है। सरकार दु:ख की इस घड़ी में शहीद के परिवार के साथ है।

चार जवान अभी भी लापता…तलाश जारी

बता दें कि तिब्बत सीमा पर स्थित शिपकिला में नामज्ञा डोगरी के पास 20 फरवरी को ग्लेशियर खिसकने से नियमित गश्त पर निकले जम्मू-कश्मीर राइफल्स के 16 सैनिकों में से छह जवान बर्फ में दब गए थे। हादसे में दबे हवलदार राकेश कुमार (41) को बाहर निकाल लिया गया, पर वह शहीद हो गए। उसके बाद से लगातार सर्च आॅपरेशन चल रहा है। 11वें दिन शनिवार को शहीद जवान राजेश ऋषि का शव बरामद हुआ था। अभी भी चार जवानों का पता नहीं लग पाया है और उनकी तलाश के लिए सर्च आॅपरेशन अभी भी जारी है।

ये भी रहे मौजूद

इस अवसर पर नालागढ़ के विधायक लखविंद्र राणा, जिला भाजपा अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक केएल ठाकुर, जैक राइफल के सूबेदार दीपक राणा, उपनिदेशक सैनिक कल्याण बोर्ड वीके धवन, उपमंडलाधिकारी नालागढ़ प्रशांत देष्टा, उप पुलिस अधीक्षक नालागढ़ चमन लाल सहित अन्य सैन्य अधिकारी काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here