सुबह छह बजे से रात्रि दस बजे तक ही लाउड स्पीकर से होगा प्रचार

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

धर्मशाला। लोकसभा निर्वाचन- 2019 के दृष्टिगत चुनावी रैलियों तथा वाहनों पर लाउडस्पीकर लगाने के लिए अनुमति लेना अत्यंत जरूरी है। यह जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारी डीसी संदीप कुमार ने देते हुए बताया कि चुनाव आयोग के निर्देशों के मुताबिक लाउड स्पीकर का प्रयोग प्रातः छह बजे से लेकर रात्रि दस बजे तक किया जा सकता है जबकि रात्रि दस बजे से सुबह छह बजे तक लाउडस्पीकर के माध्यम से प्रचार पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है।
उपायुक्त संदीप कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि लाउडस्पीकर की ध्वनि के डेसिबल भी निर्धारित किए गए हैं, निर्धारित डेसिबल से ज्यादा ध्वनि भी आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन मानी जाएगी।
उन्होंने कहा कि मतदान से 48 घंटे पहले लाउडस्पीकर के माध्यम से प्रचार नहीं किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों द्वारा जिन प्रचार वाहनों में लाउडस्पीकर लगाने के लिए अधिकृत किया जाएगा उन वाहनों का पंजीकरण नंबर सहित जानकारी देना जरूरी होगा, प्रचार के दौरान लाउडस्पीकर का अनुमति पत्र भी वाहन में रखना होगा।
उन्होंने बताया कि राजनीतिक दलों को चुनावी रैलियों, वाहनों तथा चुनाव प्रचार संबंधी अन्य अनुमतियां सुविधा वेब पोर्टल के माध्यम से लेना अनिवार्य है। लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार के लिए खर्चे की सीमा सत्तर लाख तक निर्धारित की गई है तथा दस हजार से उपर तक चुनाव प्रचार पर व्यय चेक या आरटीजीएस के माध्यम से ही किया जाएगा।
उपायुक्त संदीप कुमार ने कहा कि निष्पक्ष तथा स्वतंत्र निर्वाचन के लिए तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं इस में विभिन्न गतिविधियों के लिए 17 नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। इसके अलावा शराब के वितरण और मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए आबकारी विभाग के 2 नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं और धन की निगरानी के लिए एक आयकर अधिकारी की नियुक्ति की गई है। उन्होंने बताया कि जिला संपर्क केंद्र (डीसीसी) को टोल फ्री नंबर 1950 पर कार्यात्मक बनाया गया है। इसके अलावा सभी 15 विधानसभा क्षेत्रों में 35 सेक्टर मजिस्ट्रेट और 149 सेक्टर अधिकारी भी तैनात किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here