Saturday, September 26, 2020
aadarshhimachal@gmail.com

हिमाचल में साहसिक पर्यटन गतिविधियां पैराग्लाडिंग कल से होगी शुरू

सांकेतिक फोटोसांकेतिक फोटो
Share This News

आदर्श हिमाचल ब्यूरो 

शिमला। हिमाचल में साहसिक पर्यटन गतिविधि पैराग्लाइडिंग पर लगी रोक दो माह बाद बुधवार से हट रही है। अब कांगड़ा के बीड़-बिलिंग, मनाली के सोलंगनाला, चंबा के खज्जियार और धर्मशाला समेत प्रदेश के अन्य जिलों के पर्यटन क्षेत्रों में पैराग्लाइडिंग हो सकेगी। पर्यटन विभाग ने बरसात के चलते दो महीने तक पैराग्लाडिंग पर रोक लगाई थी।

कोरोना के चलते मार्च से पर्यटन स्थल खज्जियार में पर्यटकों सहित जिले के लोगों की आमद कम हुई है। इसके बाद पर्यटन विभाग ने साहसिक खेल पैराग्लाइडिंग पर रोक लगा दी थी। पैराग्लाइडरों को उम्मीद है कि साहसिक गतिविधियां शुरू होने से आने वाले दिनों में सैलानी पर्यटक स्थल खज्जियार का रुख करेंगे। अनु कुमार, प्रदीप कुमार, अशोक कुमार, बिनू कुमार, सोनू कुमार, त्रिलोक कुमार और अजय कुमार आदि पायलटों ने बताया कि दो महीने बाद बुधवार से खज्जियार में पैराग्लाडिंग शुरू होगी।

पर्यटन जिला अधिकारी सुनैना शर्मा ने कहा कि 16 सितम्बर से जिला में पैराग्लाइडिंग शुरू हो रही है। जिला कांगड़ा में बरसात के मौसम की वजह से 15 जुलाई से 15 सितंबर तक पैराग्लाइडिंग बंद थी। अब कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए तमाम जिला की तमाम पैरागलैडिंग एसोसिएशन को एसओपी विभाग दोबारा दिए गए है। बाहर से आने वाले टूरिस्ट को अपनी कोविड रिपोर्ट दिखानी होगी। यदि कोई पर्यटक कोविड रिपोर्ट नहीं दिखाता है तो उसे फ्लाइंग करने की अनुमति नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि मास्क ओर ग्लब्स हर दम पहनने होंगे। प्रत्येक फ्लाइट के बाद पूरे सामान को सैनेटाइज किया जाएगा। बीड बिलिंग में सड़क का काम चल रहा है और उस वजह से 21 के बाद ही पैराग्लाडिंग शुरू हो पाएगी। इसके अलावा स्थानीय प्रशासन से मदद ली जाएगी कि विभाग द्वारा जारी एसओपी का पूरी तरह से पालन सुनिश्चित करवाया जाए।

Aadarsh Himachal