बर्फ में दफन चार जवान हिमाचल के,एक-एक जम्मू और दार्जिलिंग का

लोग मांग रहे है सलामती की दुआ

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

शिमला। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भारत-चीन सीमा से सटे शिपकिला क्षेत्र की सटी नमज्ञा पंचायत के डोगरी नाले में गिरे हिमखंड के नीचे दबे सेना के पांच जवानों का शुक्रवार तक भी कोई सुराग नहीं लगा है। किन्नौर के उपायुक्त गोपाल चंद ने बताया कि हिमखंड में दबे जवानों की तलाश जारी है। उन्होंने बताया कि किन्नौर में दबे सेना के 5 जवानों में हिमाचल के कांगड़ा जिले के जयसिंहपुर का नितिन राणा, नालागढ़ के जोंघों जगतपुर का राजेश ऋषि और निरमंड खंड के विदेश चंद भी शामिल है, जबकि हिमाचल के ही बिलासपुर के जवान राकेश कुमार का शव बुधवार को ही निकाल लिया गया था। उन्होंने बताया कि बर्फबारी के बीच बुधवार सुबह से ही सेना, आईटीबीपी और सीमा सड़क संगठन के करीब सौ जवान मशीनरी के साथ रेस्क्यू आॅपरेशन में जुटे हैं। देर शाम को भी रेस्क्यू आॅपरेशन जारी है। इसके इलावा जम्मू और दार्जिलिंग का एक-एक जवान हिमखंड के नीचे दबा है। काबिलेगौर हो कि बुधवार सुबह सेना के छह और आईटीबीपी के 10 जवान नमज्ञा में पेट्रोलिंग पर निकले थे। डोगरी नाले में पहाड़ से हिमखंड गिरने से सेना के छह जवान बर्फ में दब गए थे। लोग उनकी सलामती की दुआ मांग रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here