पाकिस्तान दौरे पर बोले सिद्धू..सभी को अपने हिसाब से बात करने का हक

तय समय पर बनेगा नैना देवी-आनंदपुर साहिब रोप वे……

आदर्श हिमाचल ब्यूरो 

बिलासपुर। पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रसिद्ध शक्तिपीठ नैना देवी मंदिर में पहुंच कर आशीर्वाद प्राप्त किया और आरती में भाग लिया। इस दौरान सिद्धू ने विधिवत रूप से पूजा-अर्चना की और प्राचीन हवन कुंड में आहुतियां भी डाली। पत्रकारों से बातचीत के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि उनसे बड़ा हिंदू और सिख भाईचारे का प्रतीक कोई और नहीं हो सकता क्योंकि उनकी माता हिंदू थी और पिता सिख। उनके परिवार में जहां पर शिव आराधना की जाती थी, वहीं पर गुरबाणी भी रोज होती थी।

सिद्धू ने कहा कि उनके पैदा होने से पहले उनकी मां ने माता वैष्णो देवी और श्री नैना देवी के दरबार में मन्नत मांगी थी। इससे पहले वह कई बार माता पिता के साथ माता नैना देवी के दर्शनों के लिए आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह धार्मिक स्थल आस्था का केंद्र है और यहां आकर आत्मिक शांति महसूस होती है और माता नैना देवी की पूजा-अर्चना से से बल एवं ताकत मिलती है। अपने बहुचर्चित पाकिस्तान दौरे के बारे में सिद्धू ने कहा कि हर किसी को अपने हिसाब से चर्चा करने का हक हैं लेकिन वह बाबे नानक दा सिख हैं और मां का भक्त है। महजब जोड़ता है तोड़ता नहीं। उनकी आस्था जोड़ने वाली है। उन्होंने कहा कि वह इससे आगे कुछ नहीं कहना चाहते।

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि नैना देवी और आनंदपुर साहिब को जोड़ने वाले रोपवे के टेंडर होने वाले हैं और निश्चित समय अवधि में यह बनकर तैयार होगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल और पंजाब के दो धार्मिक पर्यटन स्थलों को जोड़ने वाले रोपवे का फैसला शहीद भगत सिंह के जन्म दिवस के उपलक्ष्य पर किया गया है। दोनों धार्मिक स्थल पर्यटन के अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर उभर कर सामने आएंगे। इसके द्वारा श्रद्धालु और पर्यटक पहाड़ी प्राकृतिक सौंदर्य का नजारा लेते हुए आनंदपुर साहिब से श्री नैना देवी पहुंचेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here