मीडिया प्रमाणन का मूल उद्देश्य आदर्श आचार संहिता का अनुपालन : ऋग्वेद ठाकुर

आदर्श हिमाचल ब्यूरो 

मंडी: लोकसभा चुनाव को लेकर सार्वजनिक मीडिया में कोई भी विज्ञापन देने से पहले राजनीतिक दलों, समूहों अथवा प्रत्याशियों को मीडिया प्रमाणन एवं निगरानी समिति (एमसीएमसी) से प्रमाणपत्र लेना होगा। सोशल मीडिया पर राजनीतिक विज्ञापन देने वालों को भी समिति से अनुमति लेनी होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि लोकसभा चुनावों को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष तरीके से सम्पन्न करवाने के मद्देनजर जिला मीडिया प्रमाणन एवं निगरानी समिति सोशल मीडिया पर नजर रख रही है। मीडिया प्रमाणन का मूल उद्देश्य आदर्श आचार संहिता के अनुपालन से संबंधित है।
ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि समिति सोशल मीडिया एवं पेड न्यूज पर नजर रखने के साथ ही अखबारों, रेडियो और केबल चैनलों में आने वाले विज्ञापनों पर भी नजर बनाए हुए है। इन विज्ञापनों, स्क्रॉल, जिंगल को जारी करने से पहले एमसीएमसी से प्रमाणपत्र लेना होगा। उन्होंने कहा कि जिला लोक संपर्क अधिकारी मंडी के कार्यालय में एमसीएमसी केंद्र स्थापित है। राजनीतिक दल, प्रत्याशी अथवा उनके अधिकृत प्रतिनिधि निर्धारित प्रपत्र पर एमसीएमसी केंद्र में विज्ञापन के प्रकाशन-प्रसारण से जुड़ी अनुमति का मामला प्रस्तुत कर सकते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here