अलर्ट पर लाहौल…लाहौल घाटी के त्रिलोकीनाथ में गिरा ग्लेशियर

1835

चिनाब का बहाव रुका, घाटी के निचले इलाकों में मंडराया खतरा

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

शिमला। हिमाचल मे हो रहे भारी हिमपात के बीच जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के त्रिलोकीनाथ के समीप हिमखंड गिरने से चिनाब नदी का बहाव रुक गया है। हिमखंड गिरने से चंद्रभागा नदी में झील बन गई है। हालांकि कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है लेकिन नदी किनारे रहने वालों लोगों में दशहत है। प्रशासन ने लोगों को मौसम साफ होने तक घरों से बाहर न निकलने की सलाह दी है।

हिमाचल मे हो रही भारी बर्फबारी से लाहुल के त्रिलोकीनाथ के समीप बंगारू नाले में बीते दिन हिमखंड बहकर चिनाब नदी में पहुंच गया जिससे नदी का बहाव रुक और नदी पर झील बन गई। हालांकि लाहुल स्पीति प्रशासन ने पहले ही हिमखंड गिरने की आशंका व्यक्त की थी। नाले में हिमखंड गिरने से घाटी के लोग चिंतित हैं। नदी का बहाव रुकने से इसके किनारे रहने वाले लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं। लाहुल-स्पीति में रविवार से ही बर्फबारी का दौर जारी है। केलांग में एक फुट से अधिक, सिस्सू में दस ईंच, उदयपुर में एक फुट बर्फबारी दर्ज की गई है। लाहुल-स्पीति में बर्फबारी का दौर शुरू होने से यहां जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। ऐसे में प्रशासन ने जहां क्षेत्र में अलर्ट जारी कर रखा है, वहीं आपदा प्रबंधन की टीम को भी घाटी के हर क्षेत्र पर नजर रखने के लिए कहा गया है।

उल्लेखनीय है कि लाहौल में इसी माह यह दूसरा बड़ा ग्लेशियर गिरने का मामला सामने आया है। जनवरी माह के पहले ही सप्ताह में जहां उदयपुर के समीप थिरोट जल विद्युत परियोजना के डैम साइट पर ग्लेशियर गिरने से परियोजना को लाखों का नुकसान उठाना पड़ा था, वहीं डैम को भी क्षति पहुंची थी। ऐसे में इस बार त्रिलोकनाथ के समीप ग्लेशियर के गिरने से अब क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल है।

लोगों का कहना है कि अगर ग्लेशियर रिहायशी क्षेत्र में गिरता तो जानमाल का बड़ा नुकसान यहां होता। त्रिलोकीनाथ के बंगरुनाला में गिरे ग्लेशयर से अब लोगों में खाराब मौसम की दहशत और बढ़ गई है। घाटी में जारी गत दो दिनों से हिमपात का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में लाहुल-स्पीति के करीब दो दर्जन गावों का संपर्क जहां जिला मुख्यालय से कट गया है, वहीं इन गांवों में भारी बर्फबारी के चलते विद्युत व्यवस्था भी ठप्प पड़ गई है।

वहीं, लाहौल स्पीति के कार्यकारी उपायुक्त अमर नेगी बताया कि आपदा प्रबंधन की टीम ने त्रिलोकीनाथ के समीप नाले में हिमखंड गिरने की सूचना दी है। प्रशासन हालात पर नजर रखे हुए है। उन्होंने बताया कि लाहौल घाटी में रुक-रुक कर बर्फबारी का दौर जारी है। घाटी में खराब मौसम को ध्यान में रख अलर्ट जारी किया गया है। खराब मौसम के बीच सुरक्षित स्थलों पर ही रहें। लोग घरों से ज्यादा दूर न जाएं।