पहाड़ों में जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त….शीतलहर से कांपा हिमाचल….अभी जारी रहेगी बर्फबारी

जिला प्रशासन मुस्तैद….अस्पतालों की ओर आने वाली सड़कों पर तुरंत साफ की गई बर्फ 

प्रियंका शर्मा
शिमला। लंबे इंतजार के बाद आखिर रविवार को राजधानी शिमला ने भी बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली। शिमला में साल के इस पहले हिमपात से सैलानी और कारोबारियों के चेहरे खिल गए हैं तो वहीं किसान-बागवानों में भी खुशी की लहर है। शनिवार से ही काले बादलों से घिरी राजधानी में रविवार सुबह से हिमपात शुरू हुआ। हिमपात से जहां स्थानीय लोग घरों में दुबक गए तो वहीं पर्यटक माल-रिज व अन्य स्थानों पर खूब मस्ती करते दिखाई दिए।

इस दौरान पूरा हिमाचल प्रचंड शीतलहर की जद में है और लोग गर्म कपड़े पहनने के बावजूद ठंड से कांप रहे हैं। हीटर के साथ साथ लोगों को अंगीठी का भी खूब प्रयोग करते देखा जा सकता है। सड़कों व दुकानों के बाहर जगह जगह अलाव जलाकर लोग ठंड का प्रकोप कुछ कम करते देखे गए। अभी फिलहाल आने वाले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के मौसम में कोई खास बदलाव देखने को नहीं मिलेगा और ऊंची पहाड़ियों सहित प्रदेश के कई स्थानों पर हिमपात जारी रहेगा।
इससे प्रदेश के पर्यटन कारोबारी काफी खुश है क्योंकि अब बर्फ देखने की चाहत में जल्द ही शिमला में पर्यटकों का जमावड़ा लग जाएगा। जिससे प्रदेश के पर्यटन व्यवसाय में भी बढ़ोतरी दर्ज होगी।
शिमला में इस बर्फबारी का किसानों-बागवानों के लिए विशेष महत्व हैं और इस बर्फबारी ने इनके चेहरों पर मुस्कान ला दी है। बर्फबारी से जहां बागीचों व खेतों में प्राकृतिक नमी होगी तो वहीं सेब के बागीचों के लिए आवश्यक चिलिंग आवर भी पूरे होने में सहायता मिलेगी।
वहीं शिमला जिला प्रशासन ने बर्फबारी से निपटने के खास इंतजाम पहले से ही किए थे।
रविवार को जैसे ही राजधानी ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ना शुरू किया वैसे ही जिला प्रशासन हरकत में आया और सबसे पहले राजधानी की उन सभी सड़कों को साथ साथ साफ किया गया जो सीधे अस्पतालों तक पंहुचती हैं। इसके साथ शहर के मुख्य मार्गो को भी तुरंत बहाल किया गया।
मौसम विभाग की मानें तो इस बार प्रदेश में अच्छी बर्फबारी होने की उम्मीद है और आगामी 24 घंटों में भी प्रदेश के मध्यम ऊंचाई व ऊंचे पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी का दौर जारी रहने की संभावना है। 8-9 जनवरी के बाद िपश्चिमी विक्षोभ खत्म होने के साथ ही प्रदेश में एक बर फिर धूप का आनंद लिया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here