सरकार ने नाहन मेडिकल कॉलेज को 260 करोड़ की स्वीकृति

विजय कुमार 
नाहन। नववर्ष में नाहन के डॉ वाईएस परमार मेडिकल कॉलेज के लिए प्रदेश सरकार ने 260 करोड़ रुपए की स्वीकृति प्रदान कर दी है। यही नहीं इस नए भवन का शिलान्यास व भूमि पूजन करके इसका निर्माण कार्य जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा। यह जानकारी विधानसभा अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल ने बुधवार को नाहन को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला जाबल का बाग के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान दी।
बता दें कि लंबे समय से नए भवन के निर्माण को लेकर पुराने भवन में चल रहे मेडिकल कॉलेज की अव्यवस्थाएं परेशानी का सबब बनी हुई थी। तो वही स्थानीय विधायक व विधानसभा अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल लगातार नए भवन के निर्माण को लेकर संघर्षरत थे। उनके प्रयासों से अब नए भवन के निर्माण की उम्मीदें परवान चढ़नी शुरू हो गई है।
इस कार्यक्रम में क्षेत्र के सैंकड़ो अभिभावक व लोग भी उपस्थित थे। उन्होने बताया कि इस कॉलेज की अधिसूचना होने पर बजट का कोई प्रावधान नहीं किया था। मगर 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस कॉलेज के लिए 190 करोड़ रुपए का प्रावधान किया था।
बिंदल ने बताया कि वही नाहन मेडिकल कॉलेज के नए भवन के लिए 260 करोड़ रुपए की प्रशासनिक स्वीकृती प्रदान की है। नए भवन निर्माण के बाद नाहन मेडिकल कॉलेज में सभी आधुनिक चिकित्सा सेवाऐं सूचारू रूप से उपलब्ध हो जाएँगी। उन्होने कहा कि मौजूद समय नाहन के मेडिकल कॉलेज में सभी विभागों सहित 76 चिकित्सक अपनी सेवाऐं दे रहे हैं। यही नहीं मेडिकल कॉलेज में प्रतिदिन ओपीडी आकंड़ा भी 15 सौ से पार पहुंच गया हैं।
इसके अलावा डॉ बिंदल ने बताया कि जाबल का बाग में पेयजल की समस्या को सुलझाते हुए 9 किलोमीटर दूर मईधार से पानी की लाईन बिछाकर लोगों को राहत पहुंचाई गई है। तो वही विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए दोसड़का के 33 केवी सब-स्टेशन से दो किलोमीटर की विद्युत लाईन बिछाई जाएगी। डॉ बिंदल ने बच्चों को वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह की शुभकामनाऐं देते हुए कहा कि ऐसे आयोजन से जहां मेधावी बच्चों का उत्साहवर्धन होता है वहीं पर अन्य बच्चों को आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here