20 और 21 फरवरी को फिर बरसेगें मेघ

सोमवार को पहाडों पर बर्फबारी, मैदानों में बारिश

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

शिमला। हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी और बारिश हुई। जनजातीय जिले लाहौल स्पीति, किन्नौर और चंबा जिले के पांगी और भरमौर में भारी बर्फबारी हुई है। इसके इलावा प्रदेश के मुख्य पर्यटक स्थल मनाली, डलहौजी, कुफरी, नारकण्डा में हिमपात हो रहा है जबकि शिमला में बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने 20 और 21 फरवरी को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में भारी बारिश और बर्फबारी की चेतावनी है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से पूरे प्रदेश में 24 फरवरी तक मौसम खराब रहने का पूवार्नुमान है। पिछले चौबीस घंटे में रोहतांग दर्रा में 45, कोकसर-मढ़ी में 30, केलांग-सोलंगनाला में 10 सेंटीमीटर ताजा बर्फबारी हुई। हांलाकि आज मौसम साफ रहने की बात कहीं गई है।
मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को लाहौल के लिए होने वाली तीन उड़ानें भी खराब मौसम के चलते नहीं हो सकीं। घाटी में करीब दो दर्जन मरीजों की परेशानी बढ़ गई है।
कुल्लू के चौखंड के ग्वाड़ी गांव में हिमखंड गिरने से फुट ब्रिज दब गया है। ब्रिज 2018 में बनकर तैयार हुआ था। इसकी लागत करीब 8 लाख रुपये है। एसडीएम सुभाष गौतम ने इसकी पुष्टि की है।

दो दर्जन परिवारों के घरों को मंडराया खतरा

चुराह क्षेत्र के करीब दो दर्जन परिवारों के घरों पर खतरा मंडराने लगा है। भारी बर्फबारी और बारिश के चलते हंसुआनी गांव खतरे की जद में है। आलम यह कि गांव अनसेफ हो चुका हैं। प्रशासन की ओर से एसडीएम चुराह हेमराज वर्मा ने बताया कि पुरा हंसुआनी गांव खतरे की चपेट में आ गया है, जिसके चलते ग्रामीणों को जल्द ही गलुआ नामक स्थान पर शिफ्ट कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके बाद भूस्खलन से बने खतरे की समस्या का हल किया जाएगा।

कड़ाके की ठंड की चपेट में हिमाचल

सोमवार को बारिश-बर्फबारी के चलते न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज हुई है। मौसम में ठंडक बढ़ गई है। केलांग में न्यूनतम तापमान माइनस 8.4 डिग्री, कल्पा में माइनस 3.8, कुफरी माइनस 2.9, मनाली में माइनस 0.8, डलहौजी में माइनस 0.7, शिमला में 1.7 और धर्मशाला में 4.2 डिग्री और भुंतर में 4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here