बोले….विक्रमादित्य को संघ की शाखा में क्लास लगाएं

कमलेश

शिमला। कांग्रेस कार्यालय में झड़प पर विधायक विक्रमादित्य सिंह के बयान को स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने मयार्दाहीन बताया है। विधायक को आड़े हाथों लेते हुए परमार ने कहा कि विक्रमादित्य सिंह अब विधायक बन गए हैं इसलिए जो भी कहें जिम्मेदारी से कहें। उन्होंने विक्रमादित्य को संघ की शाखा में क्लास लगाने की नसीहत के साथ-साथ अपने परिवार के राजनैतिक जीवन को ध्यान में रखते हुए मयार्दा में रह कर बयान देने की बात कही है।
रविवार को मीडिया से अनोपचारिक बातचीत के दौरान मंत्री कहा कि शीतकालीन सत्र के दौरान भी विक्रमादित्य सिंह ने संघी और भंगी के नारे लगाए थे। क्या संघी और भंगी हमारे समाज के अंग नहीं है। परमार ने कहा कि विक्रमादित्य सिंह की मानसिकता संकीर्ण हो गई है इसमें उनकी भी गलती नहीं है क्योंकि जिस राजनीतिक पार्टी में वे हैं उसमें विचारों के बजाय एक ही परिवार की तूती बोलती है।
सरकारी संस्थानों के भगवाकरण के आरोपों का जवाब देते हुए परमार ने कहा कि कांग्रेस के विधायक को पूरी जानकारी नहीं है। आयुष्मान भारत योजना के फॉर्मेट के तहत जिस हॉस्पिटल में योजना की सुविधाएं दी जा रही हैं वहां पर भगवा रंग में योजना से संबंधित जानकारी दी जा रही है जिसके लिए दीवारों पर भगवा रंग किया जा रहा है। विधायक को भगवा रंग से इतनी घृणा क्यों है भगवा रंग अतीत में त्याग और तपस्या का प्रतीक रहा है।
परमार ने कहा है कि विक्रमादित्य सिंह के आरोपो में कोई सच्चाई नहीं है सभी आरोप निराधार है। संघ देश को दुनिया का सिरमौर बनाने के विचार देता है। संघ हमेशा देश को जोड़ने के लिए काम कर रहा है न कि तोड़ने का। गौरतलब है कि विक्रमादित्य सिंह ने कांग्रेस कार्यालय में हुए बवाल पर कहा था कि इसमें बीजेपी साजिश है। उनकी बी टीम कांग्रेस में इस बवाल को अंजाम दे रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here