छात्र राजनीति से शुरूआत कर मंत्री पद पर रहे राम लाल है कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

देविंद्र सिंह 

शिमला। लोकसभा के महासंग्राम के लिए हिमाचल की चार सीटों मे से तीन पर अपने प्रत्याशी उतार चुकी कांग्रेस ने अब हमीरपुर सीट पर भी अपना मंथन लगभग पूरा कर लिया है। इस सीट पर भाजपा नेता सुरेश चंदेल की एंट्री पर हुए हो-हलल्ले के बाद अब कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता ठाकुर राम लाल को उतारने का फैसला किया है। ठाकुर राम लाल के नाम की घोषणा कांग्रेस अपनी अगली जारी होने वाली सूची में कर सकती है। उनके नाम पर हमीरपुर संसदीय सीट से लगभग सहमति बन चुकी है।

ठाकुर राम लाल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता है। उन्होने अपने राजनैतिक जीवन की शुरूआत कांग्रेस के छाज्ञ संगठन एनएसयूआई से की और कांग्रेस संगठन के साथ साथ कांग्रेस के मंत्री पदों पर भी उन्हें बराबर तवज्जों मिली।

माना जा रहा है कि वीरभद्र सिंंह के सुरेश चंदेल के नाम विरोध जताने के बाद कांग्रेस ने अपने पार्टी से अनुराग ठाकुर के खिलाफ प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है। ठाकुर राम लाल वीरभद्र सिंह के करीबी नेताओं में शुमार है, साथ ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में उनका नाम शुमार है।

हमीरपुर संसदीट सीट इस वक्त भाजपा का गढ़ बन चुकी है। यही कारण है कि कांग्रेस यहां बहुत सोच-विचार कर कसी उम्मीदवार को उतारना चाह रही है। जहां भाजपा ने यहां पहले से ही तीन बार रहे सासंद अनुराग ठाकुर को ही अपना प्रत्याशी बनाया है तो वहीं कांग्रेस ने अब श्रीनैना देवी से अपने विधायक और पार्टी के वरिष्ठ नेता ठाकुर राम लाल को अपना प्रत्याशी बनाने का फैसला किया है।

कांग्रेस के राज्य मीडिया प्रभारी बलदेव ठाकुर ने कहा कि ठाकुर राम ला के प्रत्याशी बनने पर निश्चित तौर पर कांग्रेस को इस सीट पर लाभ पंहुचेगा, क्योंकि ठाकुर राम लाल पार्टी के वरिष्ठ नेता ही नहीं है बल्कि कई बार मंत्री पद पर भी रह चुके हैं।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here