Friday, October 30, 2020
aadarshhimachal@gmail.com

महागठबंधन बिहार चुनाव में मजबूत स्थिति में, बनाएगा सरकारः राजीव शुक्ला

2022  के विधानसभा चुनाव के लिए संगठन में जरूरत पर होगा फेरबदल,  बेहतर प्रत्याशियों के चयन पर अभी से होगा काम 

हिमाचल प्रभारी पहली बार शिमला आने पर मीडिया से भी रूबरू भी हुएहिमाचल प्रभारी पहली बार शिमला आने पर मीडिया से भी रूबरू भी हुए
Share This News

आदर्श हिमाचल ब्यूरो 

शिमला। अखिल भारतीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य, पूर्व केंद्रीय मंत्री व प्रदेश कांग्रेस मामलों के हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला ने कहा कि बिहार चुनाव में महागठबंधन मजबूत है और महागठबंधन ही सरकार बनाएगा।  अपने दिल्ली रवाना होने से पहले शिमला में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए राजीव शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस ने महागठबंधन के तहत चुनाव लड़ने का फैसला लिया है और नीतीश कुमार सरकार को बिहार से विदा करेगें।

इसके अलावा हिमाचल में जरूरत के हिसाब से संगठन में फेरबदल से भी हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला ने इंकार नहीं किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए जीत के लिए अभी से एक रणनीती के तहत कांग्रेस काम करेगी और बेहतर प्त्याशीयों के चयन के लिए भी अभी से काम करेगी।

राजीव शुक्ला ने कहा कि कृषि बिल किसानों के लिए काला कानून है, जिस संसद ने पास कर दिया है और अब राष्ट्रपति की मंजूरी के लिए भेज दिया है। उन्होंने कहा इस कानून के खिलाफ कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है। राजीव शुक्ला ने कहा कि किसान विरोधी इस कानून के खिलाफ कांग्रेस पार्टी 2 अक्टूबर महात्मा गांधी के जन्मदिवस से 10 अक्टूबर तक देश भर में आंदोलन शुरू करेगी। जिसमें अनेक स्थानों पर धरने और प्रदर्शन किए जाएगें। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए कांग्रेस का यह आंदोलन तब तक जारी रहेगा, जब तक सरकार कानून को वापिस नहीं लेती।

शुक्ला ने कहा कि दो दिवसीय हिमाचल दौरा आज खत्म हो गया। वह जल्द ही प्रदेश का दौरा करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस मजबूत स्थिति में है। उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सबको साथ लेकर बेहतर काम कर रहें है। अब समय आ गया है कि सभी कांग्रेस जन मैदान में डट जाए। केंद्र और प्रदेश सरकार  की जनविरोधी नीतियों खिलाफ मोर्चा खोलते हुए लोगों को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में एक जुट है। उन्होंने कहा कि बिल के खिलाफ राज्यपाल को ज्ञापन सौंपना था लेकिन आईसोलेशन में होने के कारण नहीं सौंप पाए।

कांग्रेस में गुटबाजी को लेकर पूछे गए सवाल के जबाव में राजीव शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस से ज्यादा झगड़ा और उलझने तो बीजेपी में है। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश में भाजपा सरकार पूरी तरह से विफल रही है। विकास कार्य ठप्प है। बेरोजगारी चरम पर है। किसान, बागवान, दुकानदार, गरीब तबका दुःखी है। अर्थ व्यवस्था चरमरा गई है। इसलिए प्रदेश में बदलाव सुनिश्चित है और कांग्रेस का सत्ता में आना जरूरी है। उन्होंने दावा किया कि वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनाएगी।

कोरोना को लेकर उन्होंने कहा कि एक वरिष्ठ मंत्री ने ही सरकार पर अस्पतालों में कमियों को गिना दिया है। इससे ज्यादा क्या हो सकता है। भाजपा सरकार पूरी तरह से निपटने में विफल रही है। कांग्रेस आलाकमान को कोरोना काल में हिमाचल कांग्रेस द्वारा एक पत्र द्वारा 12 करोड़ के बिल पर शुक्ला बचाव की मुद्रा नजर आए। इस दौरान राजीव शुक्ला ने पदाधिकारियों के साथ बैठकें आयोजित की। राजीव शुक्ला कांग्रेस की वरिष्ठ नेता विद्या स्टोक्स से ठियोग में और पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से सुबह की चाय पर मिले और अपने वि

loading...