सोहराबुद्दीन मामले में अमित शाह को क्लीन चिट मिलने से कांग्रेस हुई बेनकाब

यूपीए सरकार ने सीबीआई का किया दुरूपयोग….सच्चाई को छुपाना मुश्किल

कमलेश 
शिमला। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कांग्रेस पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि आतंकवादियों को कांग्रेस का सहारा मिलना नई बात नहीं है। लेकिन इस प्रकार के कुकृत्य देशहित से खिलवाड़ है।
        बुधवार को यहां मीडिया से बातचीत करते हुए सीएम ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने निजी हितों को हमेशा तरजीह दी और सत्ता के लिए देश हितों की भी दाव पर लगाने में संकोच नहीं किया।
         सोहराबुद्दीन शेख फर्जी मुठभेड़ मामले में माननीय न्यायालय द्वारा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व अन्यों को क्लीन चिट देने पर जय राम ठाकुर ने कहा कि  इस फैसले के बाद देश में कांग्रेस पूरी तरह से बेनकाब हो चुकी है।
      उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस नेतृत्व में तत्कालीन यूपीए की सरकार ने लगभग आठ वर्ष पहले अमित शाह, जो उस समय गुजरात के गृह राज्य मंत्री थे, को एक सुनियोजित राजनीतिक षड़यंत्र के तहत इस मामले में फंसाने की कोशिश की थी। सीएम ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस नेतृत्व की केंद्र सरकार ने इस मामले में सीबीआई का पूरी तरह से दुरूपयोग किया और अमित शाह के विरूद्ध झूठा मामला तैयार करवाकर उनका राजनीतिक जीवन बर्बाद करने की पुरजोर कोशिश की थी। परन्तु सच्चाई की जीत हमेशा होती है और मुम्बई की एक विशेष सीबीआई अदालत ने 21 दिसम्बर, 2018 को सोहराबुदद्ीन शेख हत्या मामले सभी 22 आरोपित व्यक्तियों को साक्ष्य न होने पर बरी कर दिया है।
     उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब भी सत्ता में रही उन्होंने सी.बी.आई. का दुरूपयोग करते हुए अपने राजनीतिक विरोधियों को दबाने की कोशिश की है और झूठे मामलों में उन्हें फंसाकर बेवजह तंग किया है। उन्होंने कहा कि न्यायालय ने भी माना है कि अमित शाह पर केस राजनीतिक कारणों से थोपे गए थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अमित शाह के राजनीतिक भविष्य को बर्बाद करना चाहती थी क्योंकि उनकी लोकप्रियता काफी बढ़ चुकी थी। इसी दुर्भावना के चलते कांग्रेस ने अमित शाह को फंसाने की पूरी कोशिश की। उनका कहना था कि इस फैसले ने बता दिया है कि सच्चाई को न ही दबाया जा सकता है और न ही समाप्त किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here