नशा मुक्त समाज के लिए कर रहे आम जनता को जागरूक….

आदर्श हिमाचल ब्यूरो

 

शिमला। लोकसभा चुनावों में शराब का इस्तेमाल न करने की अपील हमीरपुर के युवा अरुण धूमल ने फेसबुक अकाउंट पर की है। पंजाब के खरड़ में डॉ नेहा सूरी की हत्या नशे के सौदागर की वजह से ही मानी जा रही है। इसी पर टिप्पणी करते हुए अरुण धूमल ने नशा मुक्त समाज के लिए आम लोगों को आगे आने के लिए कहा है और चुनावों में इस्तेमाल करने वाली शराब पर नकेल कसने की अपील की है
उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा है कि ष्बहुत ही दुखद ख़बर और एक जागरूक समाज के लिए ज़रूरी है कि ऐसी घटनाओं के कारणों का संज्ञान लें ताकीं नशे के ख़िलाफ़ लड़ने वाले अधिकारी जब ईमानदारी से काम करें तो समाज के तौर पर हम सब मज़बूती से उनके साथ खड़े हों।

  उनका मानना है कि इस समय लोकसभा चुनाव का दौर है और जब तक हम सब ये संकल्प ना लें कि शराब पिलाकर और बाँटकर जो उम्मीदवार हमारे वोट चाहते हैं ना केवल उनको हराएँगे बल्कि उनको मार मार के भगाएँगे तब तक ऐसी दुखद घटनाएँ होती रहेंगी। उन्होने कहा है कि जब नेहा जैसे अधिकारी अपनी जान दाँव पर लगाकर नशे के ख़िलाफ़ अभियान चलाते हैं तो देश के हर एक युवा को भी नशे के प्रति आम जनता को जागरूक करना चाहिए।

साउथ अमेरिका के कई देश दशकों पहले इस चीज़ का शिकार हुए जब नशे के सौदागरों ने वहाँ की राजनीति में हस्तक्षेप किया और वहाँ के राजनेताओं को नशा बेचकर कमाए धन से ख़रीद लिए। आज वो देश चाहे कोलम्बिया हो या वेनेज़ुएला आज तबाही के कगार पे खड़े हैं। आइए हम सब संकल्प लेकर ऐसी ताक़तों का ज़ोरदार विरोध करें और उनको हारने का संकल्प लें जो नशे के कारोबार से हमारे नौजवानों का भविष्य अंधकारमय करने पर आमादा हैं।डॉक्टर नेहा सूरी को यही हम सबकी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। ईश्वर इनकी आत्मा को शांति दे और परिवार को सदमे से उभरने की शक्ति दे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here