मोदी बोलते थे न खाऊंगा न खाने दूंगा, भाजपा चुनावों में करोड़ों कर रही खर्च,कहाँ से आया इतना पैसा-आनंद शर्मा

आदर्श हिमाचल ब्यूरो 
शिमला में राज्य सभा के उपनेता आनंद शर्मा ने पत्रकार वार्ता कर प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर हमला बोला और प्रधानमंत्री की तुलना उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जो से कर डाली।आनंद शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री खुद को दमदार और नामदार कहते है जबकि प्रधानमंत्री बुद्धिमान होना चाहिए।
आनंद शर्मा ने कहा कि देश में तीसरे चरण का चुनाव हो रहा है।दो चरणों मे कांग्रेस बढ़त की ओर है जबकि भाजपा का ग्राफ लगातार गिर रहा है। जिसका पता पीएम मोदी के भाषणों में उनकी बौखलाहट से चल रहा है। 2014 में मोदी ने जो वायदे किए उसके ऊपर भाजपा खरा नही उतर पायी है । अच्छे दिन का वायदा बुरे दिनों में बदल गया है।
केन्द्र के दो फैसलों नोटबन्दी व जीएसटी के थोपने से देश को भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा। 60 फीसदी भारत के जवान बेरोजगार हो गए। 1 करोड़ 10 लाख बेरोजगार पिछले पांच साल में हो गए। 3 लाख करोड़ का सीधा नुकसान उद्योग जगत को हुआ। जीएसटी से 45 फीसदी राजस्व कम हुआ। पेट्रोल डीजल की कीमतें आसमान छू रही है। रुपया 70 के पार हो गया है। अब पीएम को जवाब देना चाहिए लेकिन पीएम गैर-जिम्मेदाराना जवाब दे रहे हैं। जीडीपी गिर रही है। निवेश टूट गया है। छः फ़ीसदी इन्वेस्टमेंट टूटे है। एनपीए 13 लाख करोड़ हो गया। उत्पादन घटकर 0.5 फीसदी रह गया। इन सब बातों का जबाब पीएम को देना है।
लेकिन अब बदलाव का समय है। भाजपा ने 4 हज़ार करोड़ खर्च अभी तक चुनावों के विज्ञापन खर्च कर दिया। भाजपा ने हज़ारों करोड़ विज्ञापनों पर खर्च कर दिया पैसा कहां से आया। पीएम अपने पद की गरिमा को नही समझते हैं वह गैरजिम्मेदाराना बयान दे रहे है। पीएम कांग्रेस को निज़ी शत्रु मानते है। पीएम ने सभी सरकारी तंत्र का दुरुपयोग किया है । जहां चुनाव हो रहे है वहाँ पर कांग्रेस के नेताओं के घर पर ईडी और सीबीआई के छापे डाले जा रहे है।
आनंद शर्मा ने कहा कि पीएम दिमागी रूप से खरे होने चाहिए और जो कहे उस पर टिके लेकिन ये दोनों ही बातें पीएम के अंदर नही है। पीएम कहते है कि जो भी हो रहा है पहली बार हो रहा है। वह ये दर्शाने की कोशिश कर रहे है कि भारत न्यूक्लियर पावर अब जाकर बना है जबकि 1974 मेंं इंदिरा गांधी के समय में भारत के पास न्यूक्लियर पवार आ गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here