31 मार्च तक 100 करोड़ और खर्च करेगा हिमाचल

कमलेश

शिमला। ग्रामीण विकास सचिव डॉ. आर.एन. बत्ता बुधवार को नई दिल्ली स्थित कृषि भवन में ग्रामीण विकास को लेकर आयोजित बैठक में शामिल हुए। बैठक में वर्ष 2019-20 की वार्षिक कार्य योजना की समीक्षा की गई।
उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में मनरेगा के तहत 800 करोड़ रुपये व्यय किए गए है जो सर्वाधिक है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त मनरेगा के तहत 100 करोड़ रुपये जारी किए गए है, जो 31 मार्च, 2019 तक उपयोग में लाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत वर्ष 2019-20 के लिए 850 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं यदि आवश्यकता हुई तो और धनराशि उपलब्ध करवाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि राज्य के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2019-20 के लिए 7800 आवास स्वीकृत किए गए हैं।
डॉ. बत्ता ने केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय से स्वयं सहायता समूहों द्वारा तैयार किए गए उत्पादों के विपणन व उत्पाद विकास के लिए परामर्श सेवा उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here