गृहिणी सुविधा योजना के तहत 120 तथा उज्जवला योजना के तहत 15 गैस कुनेक्शन किए वितरित 

आदर्श हिमाचल ब्यूरो 
बिलासपुर:- महिलाओं को रसोई के लिए इंधन की लकड़ी इकट्ठा करने से निजात दिलाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा गृहिणी सुविधा योजना आरंभ की गई है। गृहिणी सुविधा योजना के तहत उज्जवला योजना से वंचित रहे परिवारों को निशुल्क गैस कुनेक्शन व चुल्हे प्रदान किए जा रहे है। यह जानकारी सदर बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक सुभाष ठाकुर ने गृहिणी सुविधा योजना के तहत विधान सभा क्षेत्र ग्राम पंचायत बरमाणा में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए दी।
          इस अवसर पर उन्होंने ग्राम पंचायत बरमाणा, धार टटोह, धौण कोठी, कुडडी, पंजगाई, विनौला, निचली भटेड़ तथा सीहड़ा पंचायतों की पात्र महिलाओं को गृहिणी सुविधा योजना के तहत निशुल्क 120 गैस कुनेक्शन तथा 15 गैस कुनेक्शन उज्जवला योजना के तहत वितरित किए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने महिला सशक्तिकरण और उनके स्वास्थ्य के दृष्टिगत गृहिणी सुविधा योजना आरंभ की है जिसके प्रतिफल न केवल प्रदेश में पर्यावरण संरक्षण ही हो रहा है अपितु महिलाओं के स्वास्थ्य की रक्षा भी हो रही है।
          उन्होंने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना के तहत जिला बिलासपुर में 1200 गैस कुनेक्शन वितरित किए गए है।उन्होंने कहा कि धुएं से होने वाली बीमारियों व अनावश्यक आर्थिक बोझ व समय के बचाव के लिए गृहिणी सुविधा योजना अत्यंत कारगर साबित हो रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के उत्थान के लिए अनेकों योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं जिससे न केवल महिलाओं का सशक्तिकरण हुआ है अपितु महिलाओं में आत्मविश्वास के बढ़ने के साथ-साथ स्वावलम्बन और आत्मनिर्भरता के क्षेत्र में भी विस्तार हो रहा है।
          उन्होंने कहा कि लोगों को सुचारू रूप से पेयजल सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए 65 करोड़ की लागत से कौल डेम पेयजल योजना बनाई गई है। इस योजना से एक लाख से भी अधिक लोगों को पेयजल की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही।  उन्होंने बताया कि इसी प्रकार लगभग 40 करोड़ की लागत से एक अन्य नई पेयजल स्कीम बनाने के भी प्रयास किए जा रहे ताकि लोगों को पर्याप्त मात्रा में पेयजल उपलब्ध करवाया जा सके।
          उन्होंने बताया कि क्षेत्र में लोगों को कम वोल्टेज की समस्या से निजात दिलाने के लिए विद्युत लाईनों के सुधारीकरण पर लगभग 1 करोड़ 50 लाख रूपए स्वीकृत करवाए गए है। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त 33 के.बी.ए गुगा भटेड़ ट्रांसफार्मर को अपग्रेड करके 100 के.वी.ए किया गया है तथा 63 के.बी.ए बैरी ट्रांसफार्मर को अपग्रेड करके 100 के.बी.ए और धार टटोह में 250 के.बी.ए का ट्रांसफार्मर स्थापित किया गया है।
         उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिक समाज का अभिन्न अंग है।  उन्हें बेहतर सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार ने ऐसे वरिष्ठ नागरिकों जिन्हें कोई भी अन्य पैंशन नही मिल रही है की वृद्धावस्था पैंशन की आयु सीमा को बिना किसी आयु सीमा के 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि विधानसभा के सभी पात्र वरिष्ठ नागरिक को इसके तहत कवर किया जा रहा है।
        उन्होंने आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की जानकारी देते हुए कहा कि इस योजना को ग्रामीण स्तर तक पहुंचाया जाएगा।  उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने पर अपनी पुष्टि के लिए अपना राशन कार्ड, आधार कार्ड, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना कार्ड तथा पंजीकृत मोबाइल नंबर साथ लाना होगा।  उन्होंने कहा कि इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि लाभार्थी देश के किसी भी पंजीकृत अस्पताल में इसका लाभ उठा सकते है। उन्होंने बताया कि इस योजना के माध्यम से लोगों को पंजीकृत अस्पताल में ईलाज की सुविधा कैशलैस मिलेगी।
         इस मौके पर ग्राम पंचायत प्रधान बरमाणा मंजू मन्साह, जिला प्रवक्ता हंस राज, बी.डी.ओ गौरव धीमान, अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण बी.एन पराशर, एस.डी.ओ आईपीएच पुनीत शर्मा, डीएफएससी प्रताप चैहान, राजेश कुमार साईं गैस ऐजेंसी बरमाणा, अशोक सैंणी-सैंणी गैस ऐजेंसी बिलासपुर के अतिरिक्त अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here