आठ सत्रीय एजेंडा व ज्वलंत मुद्दों पर की गई चर्चाए भाजपा सरकार की नाकामियों को चुनाव में मुद्दा बनाएगी कांग्रेस 

 

प्रियंका शर्मा  

 

  शिमला:-  कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में भाजपा को चारों खाने चित करने की रणनीति बनानी शुरू कर दी है। वीरवार को शिमला स्थित पार्टी मुख्यालय राजीव भवन में शिमला संसदीय क्षेत्र का एक दिवसीय अधिवेशन संपन्न हुआ। इसमें आठ सूत्रीय एजेंडा व ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा हुई। अधिवेशन की अध्यक्षता प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कीए जबकि पार्टी प्रभारी पूर्व सांसद रजनी पाटिल और सह प्रभारी विधायक गुरकीरत सिंह कोटली विशेष तौर पर उपस्थित रहे।  अधिवेशन के दौरान पार्टी पदाधिकारियों और जमीनी स्तर पर जुड़े कार्यकर्ताओं से लोकसभा चुनाव को लेकर फीडबैक लिया गया। शिमला संसदीय क्षेत्र के जिला अध्यक्षोंए महासचिवों ब्लॉक अध्यक्षोंए महासचिवों व धरातल से जुड़े कार्यकर्ताओं के साथ पाटिल ने चुनाव के मद्देनजर चर्चा की। संसदीय क्षेत्र के विधायक व वरिष्ठ पार्टी नेता भी अधिवेशन में शामिल रहे। कार्यकर्ताओं से चुनावी मुद्दे भी पूछे गए। शक्ति ऐप पर पंजीकरण का कार्य और तेज करने के निर्देश पाटिल ने दिए।  शिमला संसदीय सीट से जिताऊ उम्मीदवारों के नाम पर भी चर्चा हुई। कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से पार्टी को धरातल पर मजबूत करने के सुझाव भी लिए गए। पीएम नरेंद्र मोदी के विशेषकर शिमला संसदीय क्षेत्र की जनता से किए वायदों के पूरा न होने पर भी चर्चा की गई। अधिवेशन में नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री पूर्व मंत्री विद्या स्टोक्स विधायक रामलाल ठाकुरए कर्नल धनी राम शांडिल हर्षवर्धन चौहान विनय कुमारए लखविंदर  राणा , पूर्व स्पीकर गंगू राम मुसाफिर हरभजन सिंह भज्जीए कुलदीप राठौर, नरेश चौहान, कोषाध्यक्ष सुरेंद्र चौहान, कार्यकारिणी सदस्य महेंद्र चौहान,  जिला अध्यक्ष सिरमौर अजय सोलंकी जिलाध्यक्ष सोलन राहुल ठाकुर जिलाध्यक्ष शिमला ग्रामीण यशवंत छाजटा, जिलाध्यक्ष शिमला शहरी प्रदीप भुज्जा, एससी विभाग के चेयरमैन सुरेश कुमार सेवादल के मुख्य संगठन अनुराग शर्मा, युवा कांग्रेस अध्यक्ष मनीष ठाकुर, इंटक के प्रदेशाध्यक्ष बबलू पंडित सहित पूर्व विधायक इत्यादि अग्रणी संगठनों के प्रमुख व पदाधिकारी  उपस्थित रहे तथा  ब्लाॅक, जिला व वरिष्ठ नेताओं ने भी विचार रखे । 

मोदी व भाजपा सांसद से भी मांगा जाएगा हिसाब : पाटिल

        प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने कहा कि कांग्रेस चुनावी वायदों के पूरा न होने को लेकर भाजपा पर हमलावर रहेगी। पीएम नरेंद्र मोदी और शिमला संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद से सवाल पूछे जाएंगे। सांसद से पूछा जाएगा कि वह अपने संसदीय क्षेत्र के विधानसभा क्षेत्रों में कितनी बार गए। संसद में कितने सवाल उठाएसांसद निधि कहां-कहां स्वीकृत की और कितनी खर्च हुई। आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिए गांव की स्थिति क्यों नहींं सुधर पाई। लोकसभा सीट के तहत आने वाले विधानसभा क्षेत्रों के गांवों में कितनी बार दौरा किया। पीएम से सवाल पूछा जाएगा कि उड़ान योजना के तहत हिमाचल प्रदेश के कितने चप्पल वालों ने हवाई जहाज का सफर किया। परमाणु-सोलन फोरलेन की दुर्दशा क्यों हो रही है।

  मोदी की वादाखिलाफी को बनाएंगे चुनावी मुद्दा : सुक्खू


      कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि लोकसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी की प्रदेश के साथ की वादाखिलफी को कांग्रेस मुद्दा बनाएगी।कांग्रेस कार्यकर्ता घर-घर जाकर केंद्र व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों से लोगों को अवगत कराएंगे। आसमान छूती महंगाई से जनता परेशान है। चुनावी वायदे जुमला बनकर रह गए हैं।  कांग्रेस को बूथ स्तर पर चुनाव से पहले और मजबूत करने को लेकर भी अधिवेशन में विचार-विमर्श किया गया।  

शिमला संसदीय क्षेत्र में इन मुद्दों पर भाजपा को घेरेगी कांग्रेस

        सेब उत्पादक किसानों को राहत देने के लिए सेब पर आयात शुल्क क्यों नहीं बढ़ाया गया, गिरी पार क्षेत्र के लोगों को एसटी का दर्जा देने का वायदा क्यों नहीं हुआ पूरा,सोलन में टमाटर आधारित उद्योग लगाने की घोषणा पूरी क्यों नहीं हुई,औद्योगिक क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए भाजपा सरकार ने ठोस कदम क्यों नहीं उठाए,दलितों पर भाजपा के सत्ता में आने के बाद अत्याचार बढ़ेसरकार मूकदर्शक क्यों बनी हुई है।  

इन एजेंडा पर हुई चर्चा

लोकसभा चुनाव जीतने के लिए कार्यकर्ताओं के सुझाव, प्लानिंग व रणनीति को लागू करना,शिमला संसदीय क्षेत्र से संभावित उम्मीदवार,शक्ति प्रोग्राम का फीडबैक, लोकसभा चुनाव 2019 के लिए क्या रहे रणनीति,जनसंपर्क अभियान का फीडबैक और प्रगति रिपोर्ट,भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियां, 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी व भाजपा द्वारा किए गए झूठे वायदे, पोलिंग बूथ कमेटी गठित करने के लिए फीडबैक व सुझाव, मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण में पार्टी कार्यकर्ताओं की सहभागिता सुनिश्चित करना,वर्तमान भाजपा सांसद का हर मोर्चे पर फेल रहना, संसद में क्षेत्र से जुड़े मुद्दे न उठाना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here